Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana in Hindi प्रधानमंत्री जन धन योजना की जानकारी

नमस्कार, दोस्तों आप सभी का एक बार फिर से स्वागत है। दोस्तों जैसा की हम जानते हैं कि प्रधान मंत्री जन-
धन योजना भारत सरकार द्वारा शुरू की गई एक सरकारी योजना है जो कि हमारे समाज के गरीब और जरूरतमंद
वर्ग के लिए क्रेडिट, बीमा, पेंशन, बचत और जमा खातों जैसे धन-संबंधी सेवाओं को आसानी से प्रदान करती है। यह एक वित्तीय समावेशन योजना है जिसका ऐलान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 15 अगस्त 2014 को औपचारिक रूप से किया था। इस कार्यक्रम के शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राष्ट्रीय स्तर पर हर किसी के लिए आसान वित्तीय पहुंच सुनिश्चित करवाना है। यह योजना विशेष रूप से उन लोगों को लाभ देती है जो अतीत में भारत सरकार द्वारा प्रस्तुत विभिन्न धन-संबंधी योजनाओं के लाभ प्राप्त करने में विफल रहे थे।

वित्त मंत्रालय के वित्तीय सेवा विभाग द्वारा इसे संचालित किया जा रहा है। इस योजना के तहत 1.5 करोड़ (15
मिलियन) बैंक खाते खोले गए हैं। यह आंकड़ा प्राप्त करके भारत ने एक बार फिर एक वर्ल्ड रिकॉर्ड अपने नाम कर लिया है।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स सर्टिफिकेट कहते हैं, वित्तीय समावेश अभियान में सबसे अधिक बैंक खाते 1 सप्ताह में खोले गए हैं (18,096,130) और भारत के बैंको द्वारा ये संख्या सिर्फ 23 से 29 अगस्त 2014 तक हासिल की गयी थी।

Also Read: Hindi Kahawat पर बनी कहानिया

 

7 फरवरी 2018 तक, इस योजना के तहत 31 करोड़ (310 मिलियन) से अधिक बैंक खाते खोल दिए गए थे और इसके तहत ₹ 745 बिलियन (12 बिलियन अमेरिकी डॉलर) जमा किये गए थे।

प्रधान मंत्री जनधन योजना के लाभ – Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana Benefits

प्रधान मंत्री जन धन योजना विशेष रूप से हमारे देश के गरीब वर्ग के लिए तैयार की गई है जो सरकारी वित्त योजनाओं द्वारा दी गई वित्तीय लाभों का आनंद लेने से वंचित हैं। यह योजना ज़रूरतमंद व्यक्तियों को बैंक खाते और बीमा कवरेज में मदद करेगी। इसे तैयार करने के पीछे मुख्य उद्देश्य गरिमा वाले अनुभागों की मदद करना था और उन्हें आर्थिक रूप से स्वतंत्र और सुरक्षित बनाना था आम लोगों को लाभ देने के अलावा, इस योजना से देश की संपूर्ण अर्थव्यवस्था को लाभ होगा।

बीमा लाभ:

PMJDY स्कीम के खाताधारक आकस्मिक जीवन बीमा और बीमा के जीवन लाभ ले सकते हैं। इस योजना से उन्हें 100000 रुपय का दुर्घटना जीवन बीमा कवरेज और 30000 रूपए के जीवन बीमा कवरेज का आनंद मिलता है।

 ऋण लाभ:

PMJDY योजना के तहत खाताधारक खाता खोले जाने के छह महीने के बाद बैंक से 5000 रुपये
तक ऋण के रूप में ले सकता है। हालांकि, यह कोई बहुत बड़ी राशि नहीं है लेकिन निश्चित रूप से उन लोगों
को मदद मिलेगी।

Also Read: Paheli or Paheliyan in Hindi with Answer

 

 

ऋण के रूप में प्राप्त राशि को अधिक लाभदायक आय प्राप्त करने के लिए निवेश किया जा सकता है, खासकर कृषि और खेती जैसे क्षेत्रों में। उधारकर्ता द्वारा की गई मूल धन की वापसी के आधार पर ऋण की राशि भी बढ़ा दी जा सकती है। इस योजना के तहत ऋण की अवधि 36 महीने है। ऋण शून्य प्रसंस्करण शुल्क के साथ आता है।

मोबाइल बैंकिंग लाभ:

PMJDY योजना मोबाइल के अनुकूल है। कोई भी खाताधारक अपने खाते की जांच कर सकता है क्योंकि एक सामान्य सेल फोन खरीदना काफी सस्ता है इसलिए अधिकांश लोग इस योजना के लाभों का आनंद लेने में सक्षम होंगे।

  • PMJDY के तहत खोले गए खाते शून्य शेष खाते हैं। खाताधारक को इस खाते के तहत किसी भी न्यूनतम शेष राशि को बनाए रखने की ज़रूरत नहीं है।
  • खाता धारकों को पैसे निकालने के लिए रूपे किसान डेबिट कार्ड मिलेगा जिससे की ज़रूरत पड़ने पर वो
    एटीएम से पैसे निकाल पाएंगे।
  •  खाता धारकों को उनके जमा पर आकर्षक ब्याज मिलता है।
  •  खाता धारक को खाता जारी रखने के लिए कोई भी न्यूनतम शेष रखने की आवश्यकता नहीं है।
  •  इस योजना से आप पुरे भारत भर में पैसा आसानी से भेज सकते हैं।
  •  यह योजना सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों के लिए डायरेक्ट बेनेफिट ट्रांसफर (डीबीटी) की अनुमति देती है।
  •  PMJDY योजना के साथ खातेदार आसानी से पेंशन और अन्य बीमा उत्पादों को प्राप्त कर सकते हैं।

Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana 

जनधन योजना के हिंदी में नियम – Jan Dhan Yojana in Hindi Rules 2018

PMJDY 30,000 परिवार के सदस्यों के लिए,जीवन कवर प्रदान करता है। इस लाभ का आनंद उन ग्राहकों को दिया जाएगा जिन्होंने 15 अगस्त, 2014 से 26 जनवरी, 2015 के बीच पीएमजेडीवाई के तहत अपने बैंक खाते खोल दिए थे।

 

Also Read: बदलाव लाने वाली कहानियाँ

 

इसका लाभ उठाने के लिए खाता धारक को निम्नलिखित शर्तों को पूरा करना होगा:

 

  • खाते 15-08- 14 से 26-01- 15 के भीतर खुला हुआ होना आवश्यकता है और यह किसी व्यक्ति द्वारा खोला गया पहला खाता होना चाहिए।
  • खाताधारक 18 से 59 वर्ष के आयु समूह में होना चाहिए और वह परिवार का मुखिया होना चाहिए या आय का स्रोत होना चाहिए। यदि परिवार का मुखिया 60 वर्ष से अधिक है, तो परिवार के दूसरे कमाई वाले सदस्य को इस लाभ के लिए कवर किया जाएगा।
  • लाभार्थी के पास बैंक खाता से जुड़ा रुपे कार्ड और बॉयोमीट्रिक कार्ड होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ उठाने के समय रूपे कार्ड वैध होना चाहिए।
  • केवल एक ही व्यक्ति कवरेज का आनंद लेने का हकदार होगा। यदि एक ही परिवार के एक व्यक्ति के पास एकाधिक खाते या कार्ड हैं, तो एक कार्ड या खाते के आधार पर लाभों की गणना की जाएगी।
  • PMJDY के तहत जीवन कवर की पेशकश 5 वर्ष की अवधि के लिए प्रभावी होगी जो कि वित्तीय वर्ष 2019 और 2020 के अंत तक है। उसके बाद, इस योजना की समीक्षा की जाएगी और कुछ नियम और शर्तों में बदलाव हो सकता है।

प्रधान मंत्री जन धन योजना आवेदन पत्र – jan dhan yojana application form in hindi

PMJDY आवेदन फॉर्म सभी सहभागी बैंकों के साथ उपलब्ध है। इसके अलावा आप इसे पीएमजेडीवाई की
आधिकारिक वेबसाइट से डाउनलोड कर सकते हैं Check Website एक बार, आप फ़ॉर्म डाउनलोड करते हैं, इसके बाद प्रिंट कर प्राप्त करें और उसमे सभी आवश्यक जानकारी भरें।

Download Form In English

Download Form in Hindi

 

फिर अपना बैंक खाता खोलने के लिए भरे हुए आवेदन पत्र को निकटतम भाग लेने वाले बैंक या कियोस्क में जमा करें।

 

Also Read: एपीजे अब्दुल कलाम जीवन परिचय

 

प्रधान मंत्री जन धन योजना से संबंधित किसी भी प्रश्न के मामले में, आप निम्नलिखित राष्ट्रीय टोल फ्री नंबर पर
PMJDY हेल्पडेस्क से संपर्क कर सकते हैं:

1800 11 0001
1800 180 1111

 

तो दोस्तों आज मैंने आपको इस article मे बताया pradhan mantri jan dhan yojana in hindi. उम्मीद करता हूं दोस्तों कि आपको ये article पसंद आया होगा। आपको ये आर्टिकल केसा लगा आप इस बारे में comment ज़रूर करें। ऐसे और रोचक विषय के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए हमसे जुड़े रहें और हमारे article पढ़ते रहे।

 

 

The Author

Romi Sinha

I love to write on JoblooYou can Download Ganesha, Sai Ram, Lord Shiva & Other Indian God Images

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Jobloo.in © 2018 About Us | Contact US |Privacy Policy |
Copy Protected by Chetan's WP-Copyprotect.