Apple Company History in Hindi 🍎 एप्पल कंपनी की कहानी हिंदी में।

Apple Company History in Hindi 🍎 एप्पल कंपनी की कहानी हिंदी में।
4.6 (91.43%) 7 votes

Apple Company History in Hindi अगर आप ये जानना चाहते है तो आप सही वेबसाइट पर आये है। Apple या फिर हिंदी एप्पल को आज हर कोई जनता है की उसके हर एक सामान बाहुत महंगा है लेकिन अच्छा भी है इसलिए लोग उसके पीछे पागल है आज इस आर्टिकल में हम आपको बातयेंगे की एप्पल कंपनी की शुरूवात किसने और कैसे की। आपको ये जानकर हैरानी होगी की जिसने इसको शुरू किया था वो अब इस दुनिया में नहीं है लेकिन फिर भी लोगो का प्यार इस कंपनी के लिए कम नहीं हुवा है। तो आज इस आर्टिकल में हम आपको Apple Company History in Hindi में बातयेंगे और आपको एप्पल कंपनी की कहानी हिंदी में बता रहे है।

 

Apple Company History in HindiApple Company History in Hindi

ऐप्पल कंपनी का पूरा नाम ऐप्पल इंक जो की अमेरिकी बहुराष्ट्रीय कंपनी है जिसका ज्यादातर काम इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर सॉफ्टवेयर को बनाता है। ऐप्पल इंक के कुछ पॉपुलर प्रोडक्ट है Apple macintosh ,apple ipod ,apple iphone इन सबके लिए हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर बनाते है। पैसे की बात की जाये तो ऐप्पल इंक सैमसंग के बाद दूसरी बड़ी कंपनी है।एप्पल कंपनी का हेड ऑफिस क्यूपर्टिनो कैलिफ़ोर्निया अमेरिका में है

ऐप्पल की शुरुवात में ऐप्पल कंप्यूटर इंक के नाम की गयी थी क्योकि पहले वो सिर्फ कम्पूटर बनाते थे लेकिन बाद iphone और ipod भी बनाने लग गए तो
9 जनवरी 1977 को कंप्यूटर को हटा कर सिर्फ ऐप्पल इंक के नाम से काम करने लग गयी। एप्पल सिर्फ अमेरिका में ही नहीं बल्कि 14 देशो में 408 ऑनलाइन और ऑफलाइन स्टोर खोल रखे है जिनसे वो बहुत अच्छा बिज़नेस करते है।

आईट्यून्स स्टोर भी एप्पल का ही प्रोडक्ट है जो की दुनिया का सबसे बड़ा संगीत बाज़ार है जहा लोग ऑनलाइन गाने सुनते है।

Apple Company को किसने बनाया या शुरू किया

ऐप्पल की शुरुवात स्टीव जॉब्स, स्टीव वोज़नियाक और रोनाल्ड वेन ने 1 अप्रैल 1976 को Apple 1 से की। इस किट को स्टीव वोज़नियाक अपने हाथ से बनाते थे उसके बाद कंप्यूटर को पर्सनल कंप्यूटर की तरह बनाने लगे जिसकी कीमत 1976 में $666.66 थी।
कंपनी के शुरुवाती दिनों के बाद एक मेंबर रोनाल्ड वेन ने अपने सारे शेयर स्टीव जॉब्स को $800 में बेच दिए थे। उसके बाद करोड़पति माइक मार्ककुला ने कंपनी में $250,000 डॉलर की पूंजी लगायी थी

उसके बाद तो ऐप्पल ने बहुत तेज़ रफ़्तार पकड़ ली और पांच वर्षों के दौरान पूंजी 700% तक बढ़ गयी।

उसके बाद स्टीव वोज़नियाक ने Apple 11 को 16 अप्रैल 1977 में मार्किट में उतरा जिसमे एक स्प्रेडशीट प्रोग्राम, विसीकैल्क (VisiCalc) जैसे कई प्रोग्राम थे जिससे बाजार में अछि पकड़ बना ली। ऐप्पल ने आईबीएम और माइक्रोसॉफ्ट को कड़ी टक्कर देने के लिए बाजार में Apple 111 भी बाजार में उतारा। देखते ही देखते कंपनी ने आईपीओ भी शुरू कर दिया और वह एक सार्वजनिक कंपनी बन गयी।

इसके बाद कंपनी ने बहुत से गैजेट मार्किट में लायी जिसको लोगो ने बहुत पसंद किया। जिनमे से Iphone और ipod बहुत फेमस हुवे।

लेकिन apple 2 ने लांच के साथ ही बहुत ज्यादा लोगो को आकर्षित किया और कंपनी की सेल पहले $3 million और फिर उसके बाद $200 million पर पंहुचा दिया। 1984 आते आते कंपनी की हवा मार्किट में कम होने लगी और उसके बाद मार्किट एक और न्यूज़ पूरी तरफ हल्ला मचा दिया की स्टीव जॉब्स को एप्पल से निकल दिया

क्या कोई सोच सकता है किसी को उसकी खुद की कंपनी से निकल सकता है। लेकिन ऐसा ही हुवा क्योकि जब कंपनी बड़ी हो जाती तो कंपनी को चलाने के लिए सीईओ और बोर्ड ऑफ़ मेंबर होते जो कंपनी के निर्णय लेते है तो स्टीव के साथ ऐसा ही हुवा की बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टरस ने उन्हें कंपनी से निकल दिया और अपने सारे शेयर्स बेच कर उसी कम्पनी से इस्तीफा दे दिया

स्टीव के कंपनी को छोड़ने के बाद एक और कंपनी की शुरुवात की जिसका नाम था NeXT Computer Co जो एनीमेशन सॉफ्टवेयर बनाते थे। फिर कुछ समय बाद NeXT Computer Co को एप्पल ने खरीद लिया और स्टीव दुबारा से एप्पल में आ गए और फिर से उसी तरह एप्पल को चलाने लग गए।

2004 में स्टीव जॉब ने को पेट का कैंसर हो गया जिसमे जो की एक अलग तरह का कैंसर था जिसमे बचने की उम्मीद बहुत ही काम ही इसलिए उसने CEO के पद से इस्तीफा दे दिया और नए CEO tim cook ने एप्पल को ज्वाइन कर लिया। 56 साल की उम्र में स्टीव की मौत हो गयी लेकिन आज लोग एप्पल को सिर्फ स्टीव के कारन जानते है और उनके बनाये हुवे प्रोडक्ट को इस्तेमाल करते है।

तो ये है Apple Company History in Hindi और इस बारे में आपको कुछ और जानना है तो हमें कमेंट करके जरूर बातये ताकि हम समझ सके की आपको हमारा काम कैसा लगा।

Also Read

एप्पल से जुडी हुई रोचक जानकारी

1. Apple Company की स्थापना 1 अप्रैल यानि (मूर्ख दिवस/अप्रैल डे ) के दिन 1976 में हुई थी।

2 . Apple में नौकरी करने वाला हर तीसरा आदमी भारतीय है।

4. एप्पल कंपनी के शुरुवाती दिनों में पैसे नहीं थे और उनके अपने APPLE-I कम्प्यूटर की डिलीवरी करनी थी इसके लिए स्टीव ने अपनी वॉल्सवेगन वैन कार को बेच दिया और अपना आर्डर सही समय पर पूरा किया।

5 . पूरी दुनिया में Apple के लगभग 83,000 कर्मचारी है। एप्पल हेडक्वार्टर के कर्मचारी हर साल 125,000$ कमाते है। एप्पल कंपनी हर 1 मिनट में 300,000$ कमाती है।

6 . Steve Jobs 25 साल की उम्र में ही करोड़पति बन गए थे

7 . Apple Computers की वार्रन्टी इसके पास सिगरेट पिने से ख़तम हो जाती है

8 . Apple iPhone के हर फ़ोन की ads में 9:41 का समय दिखाया जाता है।

9 . Apple का 61 प्रतिशत बिजनेस अमेरिका के बाहर के देशो से आता है।

10 एप्पल को लेने के लिए कई बार अपनी किडनी तक बेच दी थी।

 

Also Read:

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.