All About Hindustan

What is SEO in Hindi जाने क्या होता है SEO और इसे कैसे करते है !

Online Marketing में आने वालो का सबसे पहला question होता है What is SEO ?.. SEO की जरुरत सर्च इंजन के बाद ही होने लगा क्योकि SEO का मतलब ही Search Engine Optimization होता है। मतलब अपने वेबसाइट के pages को सर्च इंजन के लिए optimize करना जिससे सर्च इंजन को आसानी से तुम्हारी website के बारे में पता लग जाये की वो किस बारे में है। सर्च इंजन से पहले पहले लोग web directory से वेबसाइट को सर्च किया करते थे उसमे बहुत टाइम भी लगता था और सही वेबसाइट भी नहीं मिल पाती थी तो इसी दिकत को देखते सर्च इंजन का invention यानी आविष्कार हुवा।

Google का आविष्कार क्यों हुवा

Google के founder Larry Page और Sergey Brin अपने रिसर्च पेपर के लिए जब भी कुछ yahoo पे सर्च करते तो उन्हें अपनी जरुरत वाला कंटेंट नहीं मिलता था तो दोनों ने डीडे किया की क्यों न सर्च इंजन की बनाया जाये। जो की आप पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा सर्च किया जाने वाला सर्च इंजन है।

SEO की जरुरत क्यों हुई

आज के time में seo बहुत ही तेज़ी से मार्किट में फैल रहा है क्यों दुनिया में 1 Billion वेबसाइट और रोज increase ही हो रही है। आप सभी जानते है की जब हम कोई चीज़ सर्च करते है तो हम गूगल के पहले 10 रिजल्ट ( Top 10 Pages ) को देखना पसंद करते है लेकीन हर एक सर्च के बहुत सरे रिजल्ट आते है जो की हम कभी नहीं देखते इसलिए हमे SEO की जरुरत पडती है अपने वेबसाइट को गूगल के टॉप 10 pages में लाने के लिए।

 Search Engine (Google /Yahoo)  कैसे काम करते है

गूगल या कोई और इंजन सर्च रिजल्ट हमें दिखाने से पहले बहुत सारे काम करता अपने एन्ड पे कर लेता है जिनमे से कुछ activites निचे दी गयी है।

Crawling : इस activity में सर्च इंजन के रोबोट हर एक वेबसाइट के डाटा को अपने end में रखता है ये रोबोट 24 घण्टे
काम करते है। इनका मेन काम ये देखना होता है की किसी वेबसाइट पे कोई नया पेज या नया कंटेंट तो अपडेट नहीं हुवा और अगर कोई अपडेट होता है तो उससे अपने साइड कॉपी कर लेते है।

Indexing : index का मतलब चीज़ो को सही तरीके से जचाना और अच्छे से arrange करना है। सर्च इंजन अभी webpages को एक index बना कर उसे अपने डेटाबेस में अपडेट करते है जिससे की अगर कभी किसी page को यूजर को देना पड़े तो उससे आसानी से index में से ढूंढ लिया जाये।

Processing : जब कोई यूजर कुछ सर्च करता है तो गूगल अपने index में से webpage को खोज कर यूजर को देता है इसी प्रोसेस को सर्च इंजन की Processing भी कहते है।

ये 3 process सभी सर्च इंजन में यूज़ किये जाते है। बाकि हर सर्च इंजन रिजल्ट दिखने के लिए अलग अलग डिज़ाइन यूज़ करते है जैसे yahoo अपने पुरे पेज पर बहुत सारी न्यूज़ दिखाता और गूगल अपने होमपेज को बिलकुल खाली रखता है।

SEO कितनी तरह से होता है।

SEO की 2 मेन टाइप होती है। On Page SEO और Off Page SEO

On Page SEO: इस टेक्निक्स में हम बहुत सरे मॉडिफिकेशन ,changes अपनी साइट के अंदर करते है। जैसे अपनी साइट में अच्छा कंटेंट लिखना जो लोगो को पसंद आएं और सही तरीके से keyword का उसे करें। अपनी वेबसाइट के URL को SEO friendly बनाना ,images को optimizes करना और भी बहुत सारे changes किये जाते है।

OffPage SEO: : इस टेक्निक्स में हम सारा काम अपनी साइट के बाहर करते है basically इस तकनीक में हम अपने ब्लॉग या वेबसाइट का प्रमोशन करते है। इसको समझने का सबसे अच्छा तरीका है जैसे Hero की नयी बाइक बनने के बाद उसकी मार्केटिंग की जाती मतलब लोगो को उस बाइक के बारे में बताया जाता है। वैसे ही हम अपने ब्लॉग के बारे में लोगो को बताना पड़ता है

Complete डिटेल of OnPage SEO in Hindi:

SEO in Hindi

बहुत से लोग Onsite SEO और On-page SEO में कंफ्यूज हो जाते है लेकिन ये दोनों ही बहुत अलग topic है।

Onsite SEO में हम अपनी पूरी वेबसाइट को ऑप्टिमाइज़ करते जैसे sitemap ,permalink structure ,जबकि On-page SEO हम एक specfic पोस्ट या आर्टिकल के लिए करते है इसमें अपने कंटेंट को keyword के लिए टारगेट किया जाता है कुछ important factor जैसे heading tag ,title tag ,description tag का भी ध्यान रखा जाता है।

हमे On-page SEO की जरुरत क्यों पड़ती है।

On-page SEO करने से हमारा आर्टिकल गूगल के टॉप 10 pages में जाता है जिससे हमें बहुत सारा tarffic मिल सकता है और हम पैसे भी कमा सकते है। लेकिन आज कल गूगल बहुत ज्यादा स्मार्ट हो गया सिर्फ On-page SEO से keyword रैंक करना बहुत ही मुश्किल है।

10 on-page optimization techniques जो आपको रैंकिंग में हेल्प करेगी 2017 में

 

1. Blog पोस्ट का टाइटल यानि जो आर्टिकल आपने लिखा है उसका title

ये सबसे जरुरी फैक्टर है जो यूजर को सबसे पहले दिखता है क़ोसिश करो की अपने keyword को H1 Tag में रखो और अपने title की length 65 character से ज्यादा नहीं होनी चाहिए।

2 . Article का Permalink Structure

Permalink Structure का मतलब जो आर्टिकल का url होता है उसमे target कीवर्ड आना जरुरी है। इससे SEO में हेल्प मिलती है।

3. Heading Tag
आप अपने आर्टिकल में सही तरह से heading tag को यूज़ करे।अपने title को H1 tag दे लेकिन पुरे आर्टिकल में सिर्फ एक ही H1 Tag होना चाहिए। आप H2
और H3 को यूज़ कर सकते है लेकिन कोशिस करे की H2, H3 को ज्यादा उसे न करे।

 

4. Keyword Density

आप अपने पुरे आर्टिकल में सिर्फ 1.5% ही keyword का यूज़ करे उससे ज्यादा यूज़ करने से आपके article की वैल्यू कम हो जाएगी इसलिए आप इस बात का ध्यान जरूर रखे।

5. Meta Tags

article की description लिखते टाइम आप सिर्फ unique कीवर्ड का यूज़ करे

6. Images

अगर आपकी images ठीक तरह से optimised है तो आपको वहा से भी ट्रैफिक मिल सकता है। आप अपनी images में alt tag का यूज़ कर सकते है। मान लीजिये की आपके पास एक dog की images है तो आप अपलोड करते टाइम उसमे alt =”Dog ” लिख सकते है।

7. एक article में कितने वर्ड /word होने चाहिए

वैसे तो कहते है की आर्टिकल जितना ज्यादा long होगा उतना ज्यादा यूजर और सर्च इंजन के लिए अच्छा है लेकिन कोशिश करे की आपका आर्टिकल कम से कम 500 word का होना ही चाहिए।

8. Internal Linking

इसका मतलब ये है की आप अपने नई article में पुराने आर्टिकल जरूर लिंक करे इससे नई यूजर आपके पुराने आर्टिकल को भी पढ़ सकेंगे।
9. External Linking

इसका मतलब आप अपने आर्टिकल में बाहर की साइट लिंक कर सकते है इससे एक trust फैक्टर बनता है.

10. यूजर को engage करने वाला कंटेंट लिखे

10 Off-page optimization techniques जो आपको रैंकिंग में हेल्प करेगी 2017 में

इस आर्टिकल में  आपको सिर्फ बेसिक डिस्क्रिप्शन मिलेगी मेरे आने वाले आर्टिकल में आपको इनकी पूरी डिटेल गाइड दूंगा।

SEO in Hindi

1. Social Media Engagement
2. Social Bookmarking Sites
3. Forum Submission
4. Blog Directory Submission
5. Article Submission
6. Question and Answer
7. Guest Posting
8. Image Submission

9. Infographics Submission
10. Document Sharing
11.Broken Link Building
12. Video Optimization
13. Infographics Submission

 

में आशा करता हु की आपको मेरी पहली SEO in Hindi की गाइड अच्छी लगी होगी क्योकि मेने इस आर्टिकल में सारे के सारे टिप्स पब्लिश किये है। मेरा इस article को लिखने का उदेस्य था की SEO in Hindi की एक भी आर्टिकल नहीं था जो पूरी इनफार्मेशन दे सके इसलिए मेने आपको SEO कैसे करे की पूरी गाइड दी है।

The Author

Romi Sinha

I love to write on JoblooYou can Download Ganesha, Sai Ram, Lord Shiva & Other Indian God

Leave a Reply

Jobloo.in © 2017 Frontier Theme